सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना

ठोस रंग

विषय-वस्तुएँ

फॉन्ट

फॉन्ट का आकार

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

0 खोज परिणाम

कोई परिणाम नहीं मिला

`

हे सर्वशक्तिमान परमेश्वर, तुम हो बहुत यशस्वी

I

सर्वशक्तिमान परमेश्वर, अंतिम मसीह, लौटकर आए मुक्तिदाता हो तुम।

बात करते हो तुम लोगों से, सत्य से करते हो उनका न्याय। आमीन!

तुम्हारे वचनों में है शक्ति, स्वच्छ करते हैं इंसान का दूषित स्वभाव।

तुम्हारे वचन करते हैं प्रकट सर्व-शक्ति और परमेश्वर की धार्मिकता।

परमेश्वर का वचन पुरानी दुनिया का न्याय करता है,

करता है लोगों, राष्ट्रों का न्याय।

परमेश्वर के वचन सब करते हैं प्राप्त।

परमेश्वर ने पहले ही हरा दिया शैतान को।

जय हो तुम्हारी, सर्वशक्तिमान परमेश्वर! तुम हो सही में बहुत यशस्वी।

सभी राष्ट्र और लोग उत्साहित हैं

देखकर तुम्हारे चमत्कारी काम, चमत्कारी काम।

II

परमेश्वर है ज्ञानी और सर्वशक्तिमान, बड़े लाल अजगर से करवाता है सेवा।

शैतान करता है बेतहाशा अत्याचार। विपत्तियां बनाती हैं लोगों को विजयी।

अजगर को करके अस्वीकार, परमेश्वर करता है लोगों को पूरा।

शैतान का राज्य चला गया। परमेश्वर का राज्य पृथ्वी पर आया है।

परमेश्वर का महान काम हुआ है पूरा। परमेश्वर लौटेगा सिय्योन में।

शैतान के अंधेरे से मानवता को बचा लिया गया है।

परमेश्वर के वचनों की प्रत्येक पंक्ति फल देती है।

परमेश्वर ने किया प्रकट लोगों का भाग्य।

सत्य वाले लोगों को परमेश्वर देता आशीष।

उससे नफ़रत करने वालों को परमेश्वर देता है दंड।

III

महान आपदाएं करती हैं दुनिया को नष्ट। परमेश्वर के लोग बचेंगे।

सभी राष्ट्र आते हैं सिंहासन के सामने। परमेश्वर के लोग करते हैं स्तुति।

परमेश्वर की जय, परमेश्वर की जय!

सर्वशक्तिमान परमेश्वर, तुम हो बहुत यशस्वी।

सर्वशक्तिमान परमेश्वर की महिमा की स्तुति में सभी रचनाएं

ख़ुशी से हैं उत्साहित, उत्साहित।

आराधना में झुकते हैं हम सब,

पृथ्वी पर परमेश्वर के शासन की करते हैं स्तुति।

सत्य और धार्मिकता प्रकट हुई है दुनिया में।

परमेश्वर की स्तुति में आवाज़ें हुई ऊंची।

परमेश्वर की जय, परमेश्वर की जय!

सर्वशक्तिमान परमेश्वर, तुम हो बहुत यशस्वी।

राष्ट्र और लोग ख़ुशी से हैं उत्साहित,

देखकर तुम्हारी अद्भुत बुद्धिमानी, बुद्धिमानी, बुद्धिमानी।

"मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना" से

पिछला:मुश्किल डगर पर परमेश्वर का अनुसरण करो

अगला:ईमानदार व्यक्ति होकर ख़ुश हूँ मैं

शायद आपको पसंद आये

प्रश्न 26: बाइबल ईसाई धर्म का अधिनियम है और जो लोग प्रभु में विश्वास करते हैं, उन्होंने दो हजार वर्षों से बाइबल के अनुसार ऐसा विश्वास किया हैं। इसके अलावा, धार्मिक दुनिया में अधिकांश लोग मानते हैं कि बाइबल प्रभु का प्रतिनिधित्व करती है, कि प्रभु में विश्वास बाइबल में विश्वास है, और बाइबल में विश्वास प्रभु में विश्वास है, और यदि कोई बाइबल से भटक जाता है तो उसे विश्वासी नहीं कहा जा सकता। कृपया बताओ, क्या मैं पूछ सकता हूँ कि इस तरीके से प्रभु पर विश्वास करना प्रभु की इच्छा के अनुरूप है या नहीं? परमेश्वर सम्पूर्ण मानवजाति के भाग्य का नियन्ता है केवल परमेश्वर के प्रबंधन के मध्य ही मनुष्य बचाया जा सकता है बुलाए हुए बहुत हैं, परन्तु चुने हुए कुछ ही हैं