सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ऐप

परमेश्वर की आवाज़ सुनें और प्रभु यीशु की वापसी का स्वागत करें!

सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना

ठोस रंग

विषय-वस्तुएँ

फॉन्ट

फॉन्ट का आकार

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

0 खोज परिणाम

कोई परिणाम नहीं मिला

150 आँधी-तूफ़ानों में पलना

1

आसमान हिमकणों से भरा है, सब उड़कर जमीन पर गिर रहे हैं।

पिघलती बर्फ़ के साथ एक पुराना ख़्याल निकल कर आ रहा है।

उस सर्दी में, पुलिस ने मेरे पिता को मुझसे छीन लिया।

ख़ुशकिस्मती से मेरी माँ बच गई, तब से हमारी दुनिया एकदम अलग हो गई।

मेरे पिता को किसने गिरफ़्तार किया, किसने उन्हें यातनाएँ दीं और उन्हें अवैध रूप से हिरासत में लिया?

कौन पागलों की तरह मेरा पीछा करता है, इधर-उधर भागने पर मजबूर करता है?

हमारा कभी-सुखी परिवार बिखर गया है।

अब मेरी माँ कहाँ है? क्या वह सुरक्षित है?

2

कई बार, मैंने अपनी माँ की गिरफ़्तारी का सपना देखा है।

घबराकर, भीगी आँखों से जाग जाती हूँ।

जब मैं कमज़ोर पड़ती हूँ, तो परमेश्वर के वचन मुझे राह दिखाते हैं और मेरा आत्मविश्वास बढ़ाते हैं।

शारीरिक पीड़ा सहकर, मैं समझ पाती हूँ कि परमेश्वर का काम कितना मुश्किल है।

मैं साफ़ तौर पर देखती हूँ कि सीसीपी दुष्ट शैतान है जो परमेश्वर की दुश्मन है।

उसने कितने ही संतों का खून बहाया है, कितनी ही ज़िंदगियों को आहत किया है!

लेकिन परमेश्वर के स्वभाव का अपमान नहीं हो सकता, शैतान निश्चित रूप से तबाह होगा।

मैं अपने विश्वास में दृढ़ हूँ, अब मुझे कोई चिंता नहीं है, मैं परमेश्वर के आयोजन के प्रति समर्पित हूँ।

3

माँ, हम आश्वस्त रहें की ईश्वर का प्यार हमारे साथ है।

परमेश्वर ने इंसान को बचाने के लिए अपना जीवन दिया है।

दुख और परीक्षण परमेश्वर का प्रेम हैं, ये हमें परिपूर्ण बनाने के लिए हैं।

मसीह के अच्छे सैनिकों को पूरी तरह संयमित होना चाहिए।

शायद, किसी दिन, हमें गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया जाए।

शायद, किसी दिन, हमें और साथ में रहने का मौका न मिले।

लेकिन मुझे परमेश्वर पर विश्वास करने की अपनी पसंद पर कभी पश्चाताप न होगा।

मेरे साथ परमेश्वर के वचन हैं, मैं अब अकेली या भयभीत नहीं हूँ।

4

माँ, मेरे दिल में जो बातें हैं, मैं उन्हें आपसे साझा करने के लिये कितनी बेचैन हूँ।

मैं जितने बरस आपसे दूर रही, उसमें मैंने आत्म-निर्भर होना सीख लिया है।

नाकामियों में मैंने परमेश्वर पर भरोसा करना सीख लिया है; मैं अब उनसे बचती नहीं।

अपना कर्तव्य निभाते वक्त, मैं सत्य की खोज कर सकती हूँ, अब मैं लापरवाही से काम नहीं करती।

परमेश्वर के न्याय और ताड़ना का अनुभव करके, मैंने न जाने कितने आँसू बहाए हैं।

कभी मैं बेहद अस्थिर थी, अब मैं समझदार हो गई हूँ।

परमेश्वर ने मुझे इस सफ़र में बहुत कुछ दिया है।

आज परमेश्वर का आदेश पाकर, मैं कितना सम्मानित महसूस कर रही हूँ।

सड़क कितनी भी पथरीली क्यों न हो, मैं परमेश्वर के प्रेम का प्रतिदान दूँगी।

पिछला:कौन है परमेश्वर के हृदय के लिए विचारवान

अगला:परमेश्वर का प्रेम मेरे साथ है, मुझे किसी का भय नहीं है

सम्बंधित मीडिया

  • स्वयं परमेश्वर की पहचान और पदवी

    I हर चीज़ पर जो राज करे वो परमेश्वर है, हर चीज़ का जो संचालन करे वो परमेश्वर है। हर चीज़ बनाई उसने, हर चीज़ का वो संचालन करता है। हर चीज़ पर वो राज करता …

  • परमेश्वर इंसान के सच्चे विश्वास की आशा करता है

    I इंसान के लिए परमेश्वर के हमेशा रहते हैं सख्त मानक। अगर तुम्हारी वफ़ादारी है सशर्त, उसे चाहिए नहीं तुम्हारा तथाकथित विश्वास। परमेश्वर को है नफ़रत उ…

  • देहधारी परमेश्वर को किसने जाना है

    I चूँकि हो तुम एक नागरिक परमेश्वर के घराने के, चूँकि हो तुम निष्ठावान परमेश्वर के राज्य में, फिर जो कुछ भी तुम करते हो उसे जरूर खरा उतरना चाहिए परमेश्…

  • प्रभु यीशु का अनुकरण करो

    I पूरा किया परमेश्वर के आदेश को यीशु ने, हर इंसान के छुटकारे के काम को, क्योंकि उसने परमेश्वर की इच्छा की परवाह की, इसमें न उसका स्वार्थ था, न योजना…

वचन देह में प्रकट होता है अंत के दिनों के मसीह के कथन (संकलन) मेमने ने पुस्तक को खोला न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है सर्वशक्तिमान परमेश्वर, अंतिम दिनों के मसीह, के उत्कृष्ट वचन राज्य के सुसमाचार पर सर्वशक्तिमान परमेश्वर के उत्कृष्ट वचन -संकलन मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना अंत के दिनों के मसीह के लिए गवाहियाँ राज्य के सुसमाचार पर उत्कृष्ट प्रश्न और उत्तर (संकलन) परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं (नये विश्वासियों के लिए अनिवार्य चीजें) विजेताओं की गवाहियाँ मसीह के न्याय के आसन के समक्ष अनुभवों की गवाहियाँ मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया जीवन में प्रवेश पर उपदेश और वार्तालाप