01

किस तरह के लोग स्वर्ग के राज्य में प्रवेश कर सकते हैं?

बहुत से लोगों को लगता है कि प्रभु में विश्वास करके और अपने पापों की माफ़ी पाकर, वे पहले ही अनुग्रह के माध्यम से बचाये जा चुके हैं। उन्हें लगता है कि प्रभु के लिए कड़ी मेहनत करने, त्याग करने और खुद को खपाने से, भले ही वे पाप के बंधनों से मुक्त नहीं हुए हों, मगर जब प्रभु आयेगा तो उन्हें स्वर्ग के राज्य में आरोहित किया जाएगा। लेकिन क्या यह बात सच है? परमेश्वर कहते हैं, "इसलिये तुम पवित्र बनो, क्योंकि मैं पवित्र हूँ" (लैव्यव्यवस्था 11:45)। परमेश्वर धार्मिक और पवित्र है, तो वह ऐसे लोगों को अपने राज्य में कैसे प्रवेश करने दे सकता है जो लगातार पाप कर रहे हैं? किस तरह के लोग वास्तव में स्वर्ग के राज्य में प्रवेश कर सकते हैं?

संदर्भ के लिए बाइबल के पद

परमेश्वर के प्रासंगिक वचन

उस समय यीशु का कार्य समस्त मानव जाति के छुटकारा का था। उन सभी के पापों को क्षमा कर दिया गया था जो उसमें विश्वास करते थे; जितने समय तक तुम उस पर विश्वास करते थे, उतने समय तक वह तुम्हें छुटकारा देगा; यदि तुम उस पर विश्वास करते थे, तो तुम अब और पापी नहीं थे, तुम अपने पापों से मुक्त हो गए थे। यही है बचाए जाने, और विश्वास द्वारा उचित ठहराए जाने का अर्थ। फिर भी जो विश्वास करते थे उन लोगों के बीच, वह रह गया था जो विद्रोही था और परमेश्वर का विरोधी था, और जिसे अभी भी धीरे-धीरे हटाया जाना था। उद्धार का अर्थ यह नहीं था कि मनुष्य पूरी तरह से यीशु द्वारा प्राप्त कर लिया गया था, लेकिन यह कि मनुष्य अब और पापी नहीं था, कि उसे उसके पापों से क्षमा कर दिया गया था: बशर्ते कि तुम विश्वास करते थे कि तुम कभी भी अब और पापी नहीं बनोगे।

— 'परमेश्वर के कार्य का दर्शन (2)' से उद्धृत

सुसमाचार-सम्बन्धित प्रश्नोत्तर

बाइबल कहती है: "क्योंकि धार्मिकता के लिये मन से विश्‍वास किया जाता है, और उद्धार के लिये मुँह से अंगीकार किया जाता है" (रोमियों 10:10)। हम मानते हैं कि प्रभु यीशु ने हमारे पापों को क्षमा कर दिया है और विश्वास के द्वारा हमें धर्मी बना दिया है। इसके अलावा, हम मानते हैं कि अगर किसी को एक बार बचाया जाता है, तो वे हमेशा के लिए बचा लिए जाते हैं, और जब परमेश्वर वापस आएगा तो हम तुरंत स्वर्गारोहित हो जाएँगे और स्वर्ग के राज्य में प्रवेश करेंगे। तो तुम क्यों गवाही दे रहे हो कि बचाए जाने और स्वर्ग के राज्य में लाये जाने से पहले हमें आखिरी दिनों के परमेश्वर के न्याय को स्वीकार करना चाहिए?

संदर्भ के लिए वीडियो

02

स्वर्ग के राज्य में प्रवेश करने का एकमात्र मार्ग

प्रभु यीशु के छुटकारे का कार्य केवल लोगों के पापों को क्षमा करता है, लेकिन इससे मनुष्य के भ्रष्ट स्वभावों का समाधान नहीं हुआ। मनुष्य की पापी प्रकृति आज भी गहराई तक समायी हुई है, बार-बार प्रार्थना करने और प्रभु के सामने अपने पापों को स्वीकार करने और प्रभु की सेवा में कड़ी मेहनत करने के बावजूद, हम पाप के बंधनों को तोड़ने में असमर्थ हैं, हम शुद्ध होने और स्वर्ग के राज्य में प्रवेश करने में असमर्थ हैं। तो, अंत के दिनों में जब प्रभु वापस लौटेगा, तब वह मनुष्य की पापी प्रकृति और भ्रष्ट स्वाभावों को पूरी तरह से ठीक करने के लिए सत्य व्यक्त करेगा और परमेश्वर के घर से शुरू होने वाला न्याय का कार्य करेगा, ताकि लोग पाप को छोड़ सकें और शुद्ध हो सकें। साफ़ तौर पर, परमेश्वर के वचनों के न्याय और ताड़ना को स्वीकार करना और इसका अनुभव करना ही पूर्ण उद्धार और स्वर्ग के राज्य में प्रवेश पाने का एकमात्र मार्ग है।

परमेश्वर के प्रासंगिक वचन

यद्यपि यीशु ने मनुष्यों के बीच अधिक कार्य किया, फिर भी उसने केवल समस्त मानवजाति के छुटकारे का कार्य पूरा किया और वह मनुष्य की पाप-बलि बना; उसने मनुष्य को उसके समस्त भ्रष्ट स्वभाव से छुटकारा नहीं दिलाया। मनुष्य को शैतान के प्रभाव से पूरी तरह से बचाने के लिए यीशु को न केवल पाप-बलि बनने और मनुष्य के पाप वहन करने की आवश्यकता थी, बल्कि मनुष्य को उसके शैतान द्वारा भ्रष्ट किए गए स्वभाव से मुक्त करने के लिए परमेश्वर को और भी बड़ा कार्य करने की आवश्यकता थी। और इसलिए, अब जबकि मनुष्य को उसके पापों के लिए क्षमा कर दिया गया है, परमेश्वर मनुष्य को नए युग में ले जाने के लिए वापस देह में लौट आया है, और उसने ताड़ना एवं न्याय का कार्य आरंभ कर दिया है। यह कार्य मनुष्य को एक उच्चतर क्षेत्र में ले गया है। वे सब, जो परमेश्वर के प्रभुत्व के अधीन समर्पण करेंगे, उच्चतर सत्य का आनंद लेंगे और अधिक बड़े आशीष प्राप्त करेंगे। वे वास्तव में ज्योति में निवास करेंगे और सत्य, मार्ग और जीवन प्राप्त करेंगे।

— 'केवल वह जो परमेश्वर के कार्य को अनुभव करता है वही परमेवर में सच में विश्वास करता है' से उद्धृत

सुसमाचार-सम्बन्धित प्रश्नोत्तर

तुम गवाही देते हो कि अंतिम दिनों में परमेश्वर सत्य को व्यक्त करता है और मनुष्य को पहचानने और शुद्ध करने का कार्य करता है, तो परमेश्वर कैसे न्याय करता है, शुद्ध करता है और मनुष्य को बचाता है?

सर्वशक्तिमान परमेश्वर अंत के दिनों में अपने न्याय का कार्य कैसे करते हैं? वे अपने वचनों से इंसान का न्याय कैसे करते हैं, उसे शुद्ध कैसे करते हैं और उसे पूर्ण कैसे करते हैं? ये जानने के लिए हम बेताब हैं। अगर हम सर्वशक्तिमान परमेश्वर का कार्य समझते हैं, तो हम लोग सचमुच परमेश्वर की वाणी सुन सकते हैं और हमें परमेश्वर के सिंहासन के सामने उन्नत किया जा सकता है। हमें ज़रा और विस्तार से बताइये!

संदर्भ के लिए वीडियो

03

स्वर्ग के राज्य की ख़ूबसूरती

अंत के दिनों का मसीह सत्य व्यक्त करता है, न्याय का कार्य करता है और विजेताओं का एक समूह बनाता है, जिसके बाद वह अच्छाई को पुरस्कार देने और बुराई को दंड देने के लिए हर तरह की आपदाएं बरसाएगा। वे सभी लोग जो परमेश्वर द्वारा शुद्ध और पूर्ण किये जा चुके हैं, जो आपदाओं के बीच उसके द्वारा बचाये और सुरक्षित किये जा चुके हैं, वे ही उसके राज्य में प्रवेश करेंगे। वे सभी परमेश्वर के वादे और आशीष पाने वाले लोग हैं। इस प्रकार, प्रकाशितवाक्य की पुस्तक की यह भविष्यवाणी पूरी तरह पूरी हो गयी है: "देख, परमेश्‍वर का डेरा मनुष्यों के बीच में है। वह उनके साथ डेरा करेगा, और वे उसके लोग होंगे, और परमेश्‍वर आप उनके साथ रहेगा और उनका परमेश्‍वर होगा। वह उनकी आँखों से सब आँसू पोंछ डालेगा; और इसके बाद मृत्यु न रहेगी, और न शोक, न विलाप, न पीड़ा रहेगी; पहली बातें जाती रहीं" (प्रकाशितवाक्य 21:3-4)।

संदर्भ के लिए बाइबल के पद

परमेश्वर के प्रासंगिक वचन

जब एक बार विजय का कार्य पूरा कर लिया जाएगा, तब मनुष्य को एक सुन्दर संसार में लाया जाएगा। निस्सन्देह, यह जीवन तब भी पृथ्वी पर ही होगा, किन्तु यह मनुष्य के आज के जीवन के पूरी तरह से असदृश होगा। यह वह जीवन है जो सम्पूर्ण मनुष्यजाति पर विजय प्राप्त कर लेने के बाद मनुष्यजाति के पास होगा, यह पृथ्वी पर मनुष्यजाति के लिए एक नई शुरुआत होगी, और मनुष्यजाति के लिए इस प्रकार का जीवन होना इस बात का सबूत होगा कि मनुष्यजाति ने एक नए और सुन्दर क्षेत्र में प्रवेश कर लिया है। यह पृथ्वी पर मनुष्य और परमेश्वर के जीवन की शुरुआत होगी। ऐसे सुन्दर जीवन का आधार ऐसा अवश्य होना चाहिए कि, मनुष्य को शुद्ध कर दिए जाने और उस पर विजय पा लिए जाने के बाद, वह परमेश्वर के सम्मुख समर्पण कर दे। और इसलिए, इससे पहले कि मनुष्यजाति अद्भुत मंज़िल में प्रवेश करे, विजय का कार्य परमेश्वर के कार्य का अंतिम चरण है। ऐसा जीवन ही पृथ्वी पर मनुष्य के भविष्य का जीवन है, यह पृथ्वी पर सबसे अधिक सुन्दर जीवन है, उस प्रकार का जीवन जिसकी लालसा मनुष्य करता है, और उस प्रकार का जीवन है जिसे मनुष्य ने संसार के इतिहास में पहले कभी प्राप्त नहीं किया गया है। यह 6,000 वर्षों के प्रबधंन के कार्य का अंतिम परिणाम है, यह वह है जिसकी मनुष्यजाति सर्वाधिक अभिलाषा करती है, और यह मनुष्य के लिए परमेश्वर की प्रतिज्ञा भी है। किन्तु यह प्रतिज्ञा तुरन्त पूरी नहीं हो सकती है: मनुष्य भविष्य की मंज़िल में केवल तभी प्रवेश करेगा जब एक बार अंत के दिनों का कार्य पूरा कर लिया जाएगा और उस पर पूरी तरह से विजय पा ली जाएगी, अर्थात्, जब एक बार शैतान को पूरी तरह से पराजित कर दिया जाएगा। जब मनुष्य को शुद्ध कर दिए जाने के पश्चात् वह पापपूर्ण स्वभाव से रहित होगा, क्योंकि परमेश्वर ने शैतान को पराजित कर दिया होगा, जिसका अर्थ यह है कि शत्रुतापूर्ण ताक़तों के द्वारा कोई अतिक्रमण नहीं होगा, और कोई शत्रुतापूर्ण ताक़तें मनुष्य की देह पर आक्रमण नहीं कर सकती हैं। और इसलिए मनुष्य स्वतन्त्र और पवित्र होगा—वह शाश्वतता में प्रवेश कर चुका होगा।

— 'मनुष्य के सामान्य जीवन को पुनःस्थापित करना और उसे एक अद्भुत मंज़िल पर ले जाना' से उद्धृत

संदर्भ के लिए वीडियो

Hindi Christian Song | राज्य गान: राज्य जगत में अवतरित होता है | Christian Choir

Hindi Christian Song | राज्य गान: राज्य जगत में अवतरित होता है | Christian Choir

2020 Christian Music Video | राज्य के दृश्य हमेशा नये जैसे होते हैं | English Gospel Song

2020 Christian Music Video | राज्य के दृश्य हमेशा नये जैसे होते हैं | English Gospel Song

2020 Christian Song | तुलना से परे है राज्य के राजा की महिमामय मुखाकृति

2020 Christian Song | तुलना से परे है राज्य के राजा की महिमामय मुखाकृति

Christian Dance | Hindi Christian Song

Christian Dance | Hindi Christian Song "मसीह का राज्य लोगों के मध्य साकार हुआ है"

संदर्भ के लिए लेख

{{alt}}

अब जबकि हमारे पाप क्षमा कर दिए गये हैं क्या हम स्वर्गराज्य में प्रवेश कर सकते हैं

{{alt}}

पाप पर विजय कैसे पाएँ: अंतत: मैंने शुद्धता का पथ पा लिया और मुक्त हो गयी

अधिक उत्कृष्ट सामग्री

अन्य विषय