विजेताओं की गवाहियाँ

36 लेख 8 वीडियो

जीवन के चमत्कार

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "परमेश्वर की जीवन शक्ति किसी भी शक्ति पर प्रभुत्व कर सकती है; इसके अलावा, वह किसी भी शक्ति से बढ़कर है। उसका जीवन शाश्व…

मौत के मुंह से बच निकलना

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "परमेश्वर मनुष्य के हृदय में हमेशा मौजूद है और हर समय उनके मध्य में रहता है। वह मनुष्यों के जीवन यापन की प्रेरक शक्ति …

जब मैं अट्ठारह बरस की थी

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "संभवतः तुम सबको ये वचन स्मरण होंगे: ‘क्योंकि हमारा पल भर का हल्का सा क्लेश हमारे लिये बहुत ही महत्वपूर्ण और अनन्त महि…

प्रेम की कोई सीमाएँ नहीं होतीं

लेखिका, झू किंग, शेनडोंग प्रांत मैंने इस जीवन में बहुत से दुख झेले हैं। मेरी शादी को ज़्यादा साल नहीं हुए थे जब मेरे पति का निधन हो गया, और उस समय से…

परमेश्वर के वचनों के मार्गदर्शन से, मैंने अंधेरी ताकतों के दमन पर काबू पा लिया है

वांग ली, झेजियांग प्रांत बचपन से ही माँ के साथ-साथ मैं भी प्रभु यीशु में आस्था रखती थी; जिन दिनों मैं प्रभु यीशु का अनुसरण करती थी, मैं अक्सर उसके प्…

उत्पीड़न की कड़वाहट का अनुभव करने के बाद मैं प्यार और नफ़रत के बीच का अंतर जान गया हूँ

झाओ झी, हेबेई प्रांत मेरा नाम झाओ झी है और मैं इस साल 52 का हो गया हूँ। मैं 14 वर्षों से सर्वशक्तिमान परमेश्वर का अनुयायी हूँ। परमेश्वर में अपना विश्…

काले दानव की मांद में जीवन की चमकती रोशनी

लेखिका लिन यिंग, शांडोंग प्रांत मेरा नाम लिन यिंग है और मैं सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया में एक ईसाई हूँ। सर्वशक्तिमान परमेश्वर में विश्वास करने …

उत्पीड़न और कष्टों के बीच प्रबोधन

—17 बरस के ईसाई बालक का उत्पीड़न का सच्चा अनुभव लेखक वांग ताओ, शैन्डॉन्ग प्रांत मैं सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ईसाई हूँ। अपनी उम्र के बच्…

सीसीपी सरकार का कठोर उत्पीड़न परमेश्वर के प्रति मेरे प्रेम को मजबूत ही करता है

लेखिका: ली झी, लियाओनिंग प्रांत वर्ष 2000 में मुझे सर्वशक्तिमान परमेश्वर के राज्य का सुसमाचार सुनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। परमेश्वर के वचन पढ़कर मुझे…

परमेश्वर का वचन मेरी जीवन शक्ति है

जू झिगांग, तियानजिन नगरपालिका अतीत में, मैं चीन के पारंपरिक संस्कारों से अत्यधिक प्रभावित था, और अपने बच्चों और पोते-पोतियों के लिए जमीन-जायदाद खरी…

परमेश्‍वर की जीवन शक्ति की उत्कृष्टता और महानता

लिन लिंग, शेंडांग प्रान्‍त मेरा जन्‍म एक ग़रीब, ग्रामीण परिवार में हुआ था, और चूँकि मेरे परिवार की कोई शक्ति या हैसियत नहीं थी, इसलिए बचपन से ही मु…

राक्षसों की गुफा में प्रवेश करने पर परमेश्‍वर के प्रेम का और भी गहरा अनुभव

फ़ेनयोंग, शान्‍सी प्रांत बचपन से ही अपने माता-पिता की प्यार भरी देखभाल में बड़ा होने के बावजूद, मैं अक्सर अकेलापन महसूस करती थी और मुझे लगता था कि को…

परमेश्‍वर का प्रकाश विपत्ति में मेरा मार्गदर्शन करता है

झाओ शिन, शिचुआन प्रान्‍त मैं बचपन में पहाड़ों पर रहती थी। मैंने बहुत ज्‍़यादा दुनिया नहीं देखी थी और मेरी कोई बड़ी महत्‍वाकांक्षाएँ नहीं थीं। मेरा वि…

तबाही के बीच जीवन का गीत

गाओ जिंग, हेनान प्रांत 1999 में, मुझे सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अंत के दिनों के कार्य को स्वीकारने का सौभाग्य मिला। परमेश्वर के वचन पढ़कर, मैंने उनमें …

दुष्टात्माओं के अत्याचारों को सहने के बाद, मुझे और भी अधिक एहसास हो गया कि परमेश्वर का अनुग्रह कितना अनमोल है

लेखक: शू कियांग, आंतरिक मंगोलिया स्वायत्त क्षेत्र मेरा नाम शू कियांग है। मैं एक इंजीनियरिंग कांट्रैक्टर के तौर पर काम करता था। मैं साल भर चलने वाली इ…

परमेश्वर के प्रेम ने मेरे दिल को मजबूत किया है

झांग कैन, लियाओनिंग प्रांत मेरे परिवार में, हमेशा से सभी की एकदूसरे के साथ अच्छी बनती रही है। मेरे पति एक बहुत ही विचारशील व्यक्ति हैं, वे सबकी बहुत …

मुश्किलें सहकर, परमेश्वर के लिए मेरा प्रेम और भी मज़बूत हुआ है

लेखक: झोऊ रुई, जियांगशी प्रांत मेरा नाम झोउ रुई है, मैं सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ईसाई हूँ। जब से मैंने होश संभाला, तब से मैंने अपने माता-प…

परमेश्वर के वचन जीवन के चमत्कारों को जन्म देते हैं

यांग ली, जियांगशी प्रांत जब मैं छोटी बच्ची थी, तभी मेरी माँ चल बसी थी। इस तरह, छोटी उम्र से ही मुझ पर घर की ज़िम्मेदारियों का बोझ आ गया। शादी के बाद, …