आस्था की मार्गदर्शक पुस्तिका

39 लेख

सभाओं में नियमित रूप से भाग लेना ईसाइयों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है

बाइबिल में लिखा है, "और एक दूसरे के साथ इकट्ठा होना न छोड़ें, जैसे कि कितनों की रीति है, पर एक दूसरे को समझाते रहें; और ज्यों ज्यों उस दिन को निकट आते…

अंत केे दिनो के संकेत: 2021 में महान रक्त चन्द्रमा—परमेश्वर कि हमारे लिए क्या चेतावनी है?

संपादक की टिप्पणी: हाल के दिनों में, खगोलीय घटना "लाल रक्त चंद्रमा" अक्सर प्रकट हुआ है। विभिन्न आपदाएं जैसे कि सर्वव्यापी महामारी, भूकंप, अकाल बदतर से…

अफवाह पर भरोसा करना परमेश्वर के अंतिम दिनों के उद्धार को खोना है

कलीसिया के भीतर कई भाई और बहनें जब भी किसी को अंतिम दिनों के सर्वशक्तिमान परमेश्वर के सुसमाचार के बारे में बात करते हुए सुनते हैं, तो वे इसे सुनने म…

धार्मिक संसार हमेशा क्‍यों इतने पागलपन के साथ परमेश्वर के नए कार्य का विरोध निंदा करता है?

दो बार जब धरती पर चलने और मानव को बचाने का कार्य पूरा करने के लिए परमेश्वर ने देह धरी है, उन्‍हें धार्मिक दुनिया के अग्रणियों के अत्यधिक विरोध, तिरस्क…

ईसाई आत्मिक जीवन के लिए 3 सिद्धांत

क्या आपने कभी इस उलझन का सामना किया है कि भक्ति और प्रार्थना के बावजूद भी, कुछ ज्यादा हासिल नहीं हो रहा है या प्रेरणा का अनुभव नहीं हो रहा है? ऐसा क्यों है? हमें अपनी दैनिकभक्ति से फल कैसे प्राप्‍त हो सकता है? निम्‍नांकित अभ्यास के तीन सिद्धांतों का पालन करके, हम अपना आत्मिक जीवन से प्राप्त होने वाले फलों में सुधार ला सकते हैं और इससे जीवन में हम तेजी से विकसित होंगे।

पूर्ण उद्धार का मार्ग क्या है? हम उद्धार कैसे प्राप्त कर सकते हैं और स्वर्ग के राज्य में प्रवेश कैसे कर सकते हैं?

शेन क्विंगकिंग, दक्षिण कोरिया बहुत से लोग प्रभु के आगमन पर उसके द्वारा बचाए जाने और स्वर्ग के राज्य में आरोहित किए जाने की राह देख रहे हैं। आ…

विपदा आन पड़ी है: परमेश्वर की इच्छा क्या है?

संपादक की टिप्पणी: "COVID-19" - एक ऐसा शब्द जो लोगों के दिलों में डर पैदा करता है - सबसे पहले चीन के वुहान में फूटा और वहाँ से पूरी दुनिया में फैल गया…

चमकती पूर्वी बिजली क्या है? मत्ती 24:27 के रहस्यों से परदा उठ गया है

हाल के वर्षों में, चमकती पूर्वी बिजली स्पष्ट तौर पर गवाही देती रही है कि अंत के दिनों में प्रभु यीशु देहधारी सर्वशक्तिमान परमेश्वर के रूप में लौट आए ह…

ईसाइयों के लिए अनिवार्य: सच्चे मसीह और झूठे मसीहों के बीच अंतर कैसे करें

सभी प्रकार की आपदाएँ अब घटित हो रही हैं और प्रभु के आने से संबंधित बाइबल की भविष्यवाणियाँ अब काफी हद तक पूरी हो चुकी हैं। कई भाई-बहन अपने दिलों में मह…

अंत के दिनों के संकेत: अंत समय में नूह के दिन आ गये हैं, तो यीशु कार्य करने के लिए कैसे लौटेगा?

सूचीपत्र नूह के दिन आ गये हैं: यह क्या संकेत है? अंत के दिनों में प्रभु का आगमन कैसे होगा? अंत के दिनों में प्रभु क्या काम करने के लिए आत…

बाइबिल के उपदेश: "लेकिन उस दिन और उस घड़ी के विषय में कोई नहीं जानता" के रहस्य का खुलासा

लेखिका शिन्यी चार रक्त चंद्रमायें प्रकट हो चुकी हैं, भूकंप, अकाल और महामारी जैसी आपदायें सामान्य हो गयी हैं। प्रभु के लौटकर आने की भविष्यवाणियाँ …

पश्चाताप क्या है? आपदाओं के बीच ईसाईयों को कैसे पश्चाताप करना चाहिए?

साल 2020 में, कोविड-19 वायरस पूरी दुनिया में काफ़ी तेज़ी से फ़ैला, जिसने पूरी दुनिया को आतंकित कर दिया। अफ़्रीका में भारी संख्या में टिड्डियों के झुंड का …

उद्धार का अर्थ क्या है? हम परमेश्वर का उद्धार कैसे प्राप्त कर सकते हैं?

लेखिका जुनयिंग उद्धार क्या है? उद्धार परमेश्वर से आता है। परमेश्वर का उद्धार मानव जाति को बचाने के लिए तैयार किया गया है और यह परमेश्वर के महान प…

बाइबल के अनुसार पाप क्या है? ईसाई कैसे पाप से छुटकारा पा सकते हैं?

प्रभु यीशु ने कहा, "मैं तुम से सच सच कहता हूँ कि जो कोई पाप करता है वह पाप का दास है। दास सदा घर में नहीं रहता; पुत्र सदा रहता है" (यूहन्ना 8:34-35)। …

बाइबल संदेश: आपदाएं बार-बार आ रही हैं—प्रभु का स्वागत करने के लिए बुद्धिमान कुंवारियाँ कैसे बनें

प्रभु यीशु ने कहा था, "तुम लड़ाइयों और लड़ाइयों की चर्चा सुनोगे, तो घबरा न जाना क्योंकि इन का होना अवश्य है, परन्तु उस समय अन्त न होगा। क्योंकि जाति प…

दुनिया आपदा से घिर गई है: क्या तुम्हारा स्वर्गारोहण किया गया है?

लेखक: बेकी, अमेरिका सूचीपत्र जब हमारा स्वर्गारोहण होगा, तो क्या हमें वाकई आसमान में उठाया जाएगा? भारी क्लेश से पहले स्वर्गारोहण का क्या अर्…

बाइबल की भविष्यवाणियां पूरी हो चुकी हैं: यीशु के आगमन का स्वागत कैसे करें

बाइबल में लिखी प्रभु के आगमन की भविष्यवाणियां पूरी हो चुकी हैं। यह इस तर्क की पुष्टि करता है कि प्रभु लौट आया है—तो फिर हमने अब तक उसके आगमन का स्वागत क्यों नहीं किया है? अगर यही सब चलता रहा तो क्या हम बहुत गंभीर पीड़ा में नहीं गिर जाएंगे? ऐसे में, प्रभु के आगमन का स्वागत करने के लिए हमें क्या करना चाहिए?

परमेश्वर ईसाइयों को क्यों कष्ट सहने देते हैं?

कई ईसाई उलझन में हैं: परमेश्वर प्रेम हैं और वह सर्वशक्तिमान हैं, तो वह हमें कष्ट सहने क्यों देते हैं? इसका उत्तर जानने के लिए इस निबंध को पढ़ें!

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें