जीवन के अनुभवों की गवाहियाँ

175 लेख 6 वीडियो

जाग गयी पैसे की गुलाम

जब मैं छोटी थी, मेरा परिवार ग़रीब था, मेरे माता-पिता मेरी शिक्षा का खर्च नहीं उठा पा रहे थे, तो मैंने स्कूल की फीस देने के लिए बाड़ बनाना और बेचना शुरू …

शोहरत और दौलत की चाह ने मुझे सिर्फ़ दुख-दर्द दिए

टियान टियान, चीन एक बार बसंत ऋतु में, मैं और कुछ वरिष्ठ डॉक्टर पिकनिक पर गए थे। रास्ते में, वहां के कुछ ग्रामीणों ने डॉ. वांग को पहचान लिया। वे बहुत …

चुप्पी के पीछे

मैं ज़्यादा बातूनी नहीं हूँ, और ऐसा अकसर नहीं होता कि मैं दिल खोलकर बात करूँ। मैंने हमेशा सोचा कि ऐसा इसलिए है, क्योंकि मेरा व्यक्तित्व अंतर्मुखी है, ल…

अ‍पने कर्तव्य में अपनी मंशाएँ सुधारना

मुझे पिछले जून में एक कलीसिया अगुआ के रूप में चुना गया था। उस समय, मैं रोमांचित थी और मुझे लगा कि भाई-बहन मेरे बारे में अच्छी राय रखते होंगे। इतने लोग…

मैं अब ज़िम्मेदारी से नहीं डरती

नवंबर 2020 में एक दिन, एक अगुआ ने हमारी टीम की सभा में भाग लिया और उसके खत्म होने के बाद कहा कि वह चाहता है कि हम एक समूह-अगुआ चुनें, जो हमारे संपादन-…

क्रूर यातनाओं ने मेरी आस्था को मजबूत किया

2009 की वसंत ऋतु में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने बड़े पैमाने पर सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया के सदस्यों की गिरफ्तारी का अभियान चलाया। एक-एक करके पूरे…

लापरवाही का समाधान करके ही इंसान उपयुक्त ढंग से अपना कर्तव्य निभा सकता है

जिंगशियान, जापान आमतौर पर, सभा या अपनी आध्यात्मिक भक्ति के दौरान, मैं लोगों की लापरवाही को उजागर करने से संबंधित परमेश्वर के वचनों को अक्सर पढ़ा करता …

परमेश्वर के वचन राह दिखाते हैं

परमेश्वर के वचन कहते हैं: "लोगों को उजागर करने में परमेश्वर का इरादा उन्हें हटाना नहीं, बल्कि उन्हें उन्नत बनाना है" ("मसीह की बातचीत के अभिलेख" में…

दुर्भाग्य द्वारा सौभाग्य की प्राप्ति

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "जब कोई व्यक्ति पीछे मुड़कर उस मार्ग को देखता है जिस पर वह चला था, जब कोई व्यक्ति अपनी यात्रा की हर अवस्था को याद करता …

कम कार्यक्षमता का बहाना बनाना ठीक नहीं

पहले, अपने कर्तव्य का निर्वाह करते समय जब भी मेरे सामने मुश्किलें आती थीं या मुझसे कोई काम बिगड़ जाता था, तो मैं सोचती थी कि उसकी वजह मेरी कम कार्यक्षम…

परीक्षणों और क्लेशों से पूर्ण हुई आस्था

1993 में मेरी माँ बीमार पड़ गई, जिसके परिणामस्वरूप मेरा पूरा परिवार प्रभु यीशु में आस्था रखने लगा। उसके बाद चमत्कारी ढंग से उसकी सेहत ठीक हो गई और तब स…

जबरन मत-परिवर्तन के खिलाफ एक लड़ाई

जब मैं 19 साल का था, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की पुलिस ने आस्था रखने के कारण मुझे गिरफ़्तार कर लिया था। वो मुझे परमेश्वर को ठुकराने और अपने भाई-बहनों को …

जेल की मुसीबत

विगत मई 2004 में एक दिन मैं कुछ भाई-बहनों के साथ एक सभा में हिस्सा ले रही थी, तभी 20 से ज्यादा पुलिस अफसरों ने धावा बोल दिया। उन्होंने बताया कि वे म्य…

बीमारी का फल

वर्ष 2007 मेरी ज़िन्दगी में नया मोड़ लेकर आया। उस वर्ष मेरे पति का कार एक्सीडेंट हुआ और वो बिस्तर में पड़ गए। हमारे दोनों बच्चे तब छोटे थे और हमारे परिवा…

कठिनाइयों में समर्पण करना सीखना

मुझे याद है 2008 में, जब मेरा बेटा छह साल का था तो एक दिन, मेरी नज़र उसके कान के पीछे बनी गाँठ पर पड़ी। जब जाँच के लिए उसे अस्पताल ले गयी तो डॉक्टर ने ब…

एक पाखंडी का पश्चाताप

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "परमेश्वर की सेवा करना कोई सरल कार्य नहीं है। जिनका भ्रष्ट स्वभाव अपरिवर्तित रहता है, वे परमेश्वर की सेवा कभी नहीं कर …

दिखावा करने से हुआ नुकसान

कुछ साल पहले मैं अपनी ही उम्र के कुछ भाई-बहनों के साथ सिंचन का कर्तव्य निभा रही थी। वे बहुत उत्साही और जिम्मेदार लोग थे। दूसरे अकसर उनकी प्रशंसा करते,…

क्या खुशामदी लोग परमेश्वर की प्रशंसा पा सकते हैं?

विश्वासी बनने से पहले, मैं हमेशा इस बात को लेकर सतर्क रहती थी कि दूसरों का अपमान न हो जाए, और मैं सबके साथ मिल-जुलकर रह सकूँ। जब कभी किसी को परेशानी म…

WhatsApp पर हमसे संपर्क करें