जीवन के अनुभवों की गवाहियाँ

174 लेख 6 वीडियो

क्रूर यातनाओं ने मेरी आस्था को मज़बूत किया

झाओ रुई, चीन मेरा नाम झाओ रुई है। परमेश्वर के अनुग्रह के कारण, मेरा पूरा परिवार 1993 से प्रभु यीशु का अनुसरण करने लगा। 1996 में, जब मैं सोलह साल की थ…

लापरवाही का समाधान करके ही इंसान उपयुक्त ढंग से अपना कर्तव्य निभा सकता है

जिंगशियान, जापान आमतौर पर, सभा या अपनी आध्यात्मिक भक्ति के दौरान, मैं लोगों की लापरवाही को उजागर करने से संबंधित परमेश्वर के वचनों को अक्सर पढ़ा करता …

परमेश्वर के वचन राह दिखाते हैं

लेखिका शाओचेंग, शान्‍सी परमेश्वर के वचन कहते हैं: "लोगों को उजागर करने के पीछे परमेश्वर का इरादा उनको हटाने के लिए नहीं, बल्कि उन्हें उन्नत करने …

दुर्भाग्य में सौभाग्य की प्राप्ति

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "जब कोई व्यक्ति पीछे मुड़कर उस मार्ग को देखता है जिस पर वह चला था, जब कोई व्यक्ति अपनी यात्रा के हर एक चरण का स्मरण करत…

अब मैं ख़राब कार्यक्षमता को बहाना नहीं बनाती

लिन रान, हेनान प्रांत पहले, अपने कर्तव्य का निर्वाह करते समय जब भी मेरे सामने मुश्किलें आती या मुझसे कोई काम बिगड़ जाता, तो मैं सोचती थी कि उसकी व…

परीक्षण और पीड़ा से पूर्ण हुई आस्था

1993 में मेरी माँ की बीमारी की वजह से ही मेरा पूरा परिवार प्रभु यीशु में आस्था रखने लगा। उसके बाद, चमत्कारिक ढंग से उनकी सेहत ठीक हो गयी और तभी से मैं…

जबरन मत-परिवर्तन के खिलाफ एक लड़ाई

जब मैं 19 साल का था, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की पुलिस ने आस्था रखने के कारण मुझे गिरफ़्तार कर लिया था। वो मुझे परमेश्वर को ठुकराने और अपने भाई-बहनों को …

जेल की यातना मुसीबत

मई 2004 में एक दिन, मैं कुछ भाई-बहनों के साथ एक सभा में हिस्सा ले रही थी, तभी 20 से ज़्यादा पुलिस अफसरों ने धावा बोल दिया। उन्होंने बताया कि वे म्युनिस…

परीक्षण का फल

वर्ष 2007 मेरी ज़िन्दगी में नया मोड़ लेकर आया। उस वर्ष मेरे पति का कार एक्सीडेंट हुआ और वो बिस्तर में पड़ गए। हमारे दोनों बच्चे तब छोटे थे और हमारे परिवा…

परीक्षणों में परमेश्वर की आशीषों का अनुभव

मुझे याद है जब मेरा बेटा छह साल का था तो एक दिन, मेरी नज़र उसके कान के पीछे बनी गाँठ पर पड़ी। जब जाँच के लिए उसे अस्पताल ले गयी तो डॉक्टर ने बताया कि ये…

एक पाखंडी का पश्चाताप

सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "परमेश्वर की सेवा करना कोई सरल कार्य नहीं है। जिनका भ्रष्ट स्वभाव अपरिवर्तित रहता है, वे परमेश्वर की सेवा कभी नहीं कर …

दिखावा करने से हुआ नुकसान

कुछ साल पहले, मैं अपनी ही उम्र के कुछ भाई-बहनों के साथ सिंचन का कर्तव्य निभा रही थी। वे बहुत उत्साही और जिम्मेदार लोग थे। दूसरे अक्सर उनकी प्रशंसा करत…

क्या खुशामदी लोग परमेश्वर की प्रशंसा पा सकते हैं?

विश्वासी बनने से पहले, मैं हमेशा इस बात को लेकर सतर्क रहती थी कि दूसरों का अपमान न हो जाए, और मैं सबके साथ मिल-जुलकर रह सकूँ। जब कभी किसी को परेशानी म…

परमेश्वर के वचनों ने मेरी आत्मा को जगा दिया

नानन, अमेरिका सर्वशक्तिमान परमेश्वर कहते हैं, "अंत के दिनों में, इन दिनों में परमेश्वर के कार्य के वर्तमान चरण में, वह मनुष्य को पहले की तरह अनुग्रह …

रुतबे को छोड़ना आसान नहीं था

मेरा जन्म एक किसान परिवार में हुआ था। बचपन में ही मेरे माता-पिता चल बसे, तो मेरे बड़े भाई और मुझे ही एक-दूसरे का सहारा बनाना पड़ा। हम बहुत गरीब थे और लो…

क्रूर यातना का समय

चेन हुई, चीन मैं चीन के एक साधारण परिवार में पली-बढ़ी हूँ। मेरे पिता सेना में थे और चूंकि मैं कम उम्र से ही उनके द्वारा ढाली गई थी और उनसे प्रभावित थ…

अटूट आस्था

मेंग योंग, चीन मैं स्वभाव से ही एक ईमानदार आदमी हूँ और यही कारण है कि मैं हमेशा दूसरे लोगों द्वारा सताया गया हूँ। इस वजह से मैंने लोगों की इस दुनिया …

शैतान के प्रलोभनों द्वारा विजय

शेन लू, चीन मेरा जन्म 1980 के दशक में एक गांव में हुआ था—पीढ़ियों तक हमारा परिवार खेतिहर रहा है। मैंने खुद को अपनी पढ़ाई में झोंक दिया ताकि मैं महावि…