सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ऐप

परमेश्वर की आवाज़ सुनें और प्रभु यीशु की वापसी का स्वागत करें!

सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

वचन देह में प्रकट होता है

ठोस रंग

विषय-वस्तुएँ

फॉन्ट

फॉन्ट का आकार

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

0 खोज परिणाम

कोई परिणाम नहीं मिला

अध्याय 1

सिय्योन तक स्तुतियाँ पहुँची हैं और परमेश्वर का निवास स्थान प्रकट हुआ है। महिमावान पवित्र नाम की सभी लोगों द्वारा स्तुति की जाती है, और यह फैल रहा है। आह, सर्वशक्तिमान परमेश्वर! ब्रह्मांड का मुखिया, अंत के दिनों का मसीह—वह जगमगाता सूर्य है, और पूरे ब्रह्मांड में प्रतापी और शानदार पर्वत सिय्योन पर उदित हुआ है ...

सर्वशक्तिमान परमेश्वर! हम तेरी जय-जयकार करते हैं; हम नृत्य करते और गाते हैं। तू वास्तव में हमारा उद्धारकर्ता, ब्रह्मांड का महान सम्राट है! तूने विजेताओं का एक समूह बनाया है, और परमेश्वर की प्रबंधन योजना पूरी की है। सभी लोग इस पर्वत की ओर प्रवाहित होंगे। सभी लोग सिंहासन के सामने घुटने टेकेंगे! तू ही एक और एकमात्र सच्चा परमेश्वर है और तू ही महिमा और सम्मान के योग्य है। समस्त महिमा, स्तुति और अधिकार सिंहासन का हो! जीवन का झरना सिंहासन से प्रवाहित होता है, यह परमेश्वर के लोगों को सींचता और पोषित करता है। जीवन प्रतिदिन परिवर्तित होता है; नई रोशनी और नया प्रकाशन हमारे साथ होते हैं, हमें सदा परमेश्वर का पूरा अंतर्ज्ञान कराते हैं। अनुभूतियों के माध्यम से हम परमेश्वर के विषय में दृढ़ होते हैं; उसके वचन हमेशा उनमें प्रकट हो रहे प्रतीत होते हैं, जो सही हैं। हम सचमुच बहुत धन्य हैं! हर दिन परमेश्वर के आमने-सामने रह रहे हैं, हर बात में परमेश्वर के साथ संवाद कर रहे हैं, और सभी बातों में परमेश्वर को संप्रभुता दे रहे हैं। हम सावधानीपूर्वक परमेश्वर के वचन पर विचार करते हैं, हमारे हृदय परमेश्वर में शांत हैं, और इस प्रकार हम परमेश्वर के सामने आते हैं जहाँ हमें उसका प्रकाश मिलता है। हमारे दैनिक जीवन में, क्रियाओं, वचनों, विचारों और धारणाओं में, हम परमेश्वर के वचन के भीतर जीते हैं, और हमारे पास हमेशा पास हमेशा विवेक है। परमेश्वर का वचन सुई में धागा पिरोता है; भीतर छिपी हुई चीज़ें अप्रत्याशित ढंग से एक-एक करके प्रकट होती हैं। परमेश्वर के साथ संगति में अब देर नहीं की जा सकती है; विचार और धारणाएँ परमेश्वर के द्वारा उघाड़ कर रख दी जाती हैं। हर पल हम मसीह के आसन के सामने जी रहे हैं जहाँ हम न्याय से गुज़रते हैं। हमारे शरीर का हर क्षेत्र शैतान के कब्ज़े में रहता है। आज, परमेश्वर की संप्रभुता को पुनर्प्राप्त करने के लिए उसके मंदिर को शुद्ध अवश्य किया जाना चाहिए। पूरी तरह से परमेश्वर के अधीन होने के लिए, हमें अवश्य जीवन-मरण की लड़ाई से गुज़रना होगा। जब हमारी पुरानी अस्मिता को सलीब पर चढ़ा दिया जाता है केवल तभी मसीह का पुनरुत्थित जीवन संप्रभुता में शासन कर सकता है।

अब पवित्र आत्मा उद्धार की लड़ाई शुरू करने के लिए हमारे हर कोने में धावा बोलता है! जब तक हम खुद से इनकार करने और परमेश्वर के साथ सहयोग करने के लिए तैयार हैं, तब तक परमेश्वर किसी भी समय हमारे अन्तर्भाग को रोशन और शुद्ध करेगा, और उसका नए सिरे से उद्धार करेगा जिस पर शैतान ने कब्ज़ा कर रखा है, ताकि हम जितनी शीघ्रता से हो सके, परमेश्वर द्वारा परिपूर्ण किए जा सकें। समय बर्बाद मत करो, और हमेशा परमेश्वर के वचन के भीतर रहो। संतों के साथ बढ़ो, राज्य में लाए जाओ, और परमेश्वर के साथ महिमा में प्रवेश करो।

पिछला:परिचय

अगला:अध्याय 2

सम्बंधित मीडिया