सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ऐप

परमेश्वर की आवाज़ सुनें और प्रभु यीशु की वापसी का स्वागत करें!

सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

सर्वशक्तिमान परमेश्वर, अंतिम दिनों के मसीह, के उत्कृष्ट वचन

(वचन देह में प्रकट होता है के संकलन)

परिचय

1मनुष्यजाति को बचाने के लिए परमेश्वर के तीन चरणों के कार्य पर उत्कृष्ट वचन
2अंतिम दिनों के परमेश्वर के न्याय के कार्य पर उत्कृष्ट वचन
3परमेश्वर के देहधारण के रहस्यों पर उत्कृष्ट वचन
4बाइबल पर उत्कृष्ट वचन
5परमेश्वर के कार्य के प्रत्येक चरण और परमेश्वर के नाम के बीच आपसी संबंध पर उत्कृष्ट वचन
6परमेश्वर के स्वभाव और उसके पास जो है और वह जो है, इस पर उत्कृष्ट वचन
7अद्वितीय परमेश्वर स्वयं को जानने पर उत्कृष्ट वचन
8मानवजाति को शैतान कैसे भ्रष्ट करता है, इसे प्रकट करने पर उत्कृष्ट वचन
9भ्रष्ट मनुष्यों के शैतानी स्वभाव और उनके सार को प्रकट करने पर उत्कृष्ट वचन
10राज्य के युग के संविधान, प्रशासनिक नियमों और धर्मादेशों पर उत्कृष्ट वचन
11सत्य की वास्तविकता में प्रवेश करने पर उत्कृष्ट वचन
(I) परमेश्वर में विश्वास पर वचन
(II) परमेश्वर से प्रार्थना और उसकी आराधना करने पर वचन
(III) परमेश्वर पर भरोसा रखने और उसकी ओर देखने पर वचन
(IV) परमेश्वर और मनुष्य के कार्य के बीच अंतर पर वचन
(V) पवित्र आत्मा के कार्य को समझने और दुष्ट आत्माओं के कार्य को पहचानने पर वचन
(VI) अपने स्वयं के शैतानी स्वभाव और प्रकृति को समझने के तरीक़े पर वचन
(VII) एक ईमानदार व्यक्ति कैसे बनें, इस पर वचन
(VIII) परमेश्वर की आज्ञा का पालन कैसे करें, इस पर वचन
(IX) अपने कर्तव्य को सही ढंग से पूरा करने पर वचन
(X) परमेश्वर से डरने और बुराई को त्यागने पर वचन
(XI) परमेश्वर के साथ मनुष्य के संबंध से जुड़े वचन
(XII) परमेश्वर को जानने पर वचन
(XIII) परमेश्वर को प्यार करने की तलाश पर वचन
(XIV) न्याय और ताड़ना, परीक्षण और शुद्धिकरण से कैसे गुज़रना है, इस पर वचन
(XV) परमेश्वर की सेवा करने और उसके लिए गवाही देने पर वचन
(XVI) शैतान के प्रभाव को दूर करने और उद्धार पाने पर वचन
(XVII) परमेश्वर द्वारा स्वभाव में परिवर्तन और पूर्णता पर वचन
12परमेश्वर की अपेक्षाओं, प्रोत्साहनों, सांत्वनाओं और चेतावनियों पर वचन
13मनुष्य के परिणाम को परिभाषित करने के लिए परमेश्वरके मानकों पर और हर तरह के व्यक्ति के अंत पर वचन
14राज्य की और मानवजाति के गंतव्य की सुंदरता की भविष्यवाणी, और परमेश्वर के वादों और आशीर्वादों पर वचन