अय्यूब अपने जन्म के दिन को कोसता है क्योंकि वह नहीं चाहता था कि उसके द्वारा परमेश्वर को तकलीफ हो

मैं अकसर कहता हूँ कि परमेश्वर मनुष्य के हृदय के भीतर देखता है, और लोग मनुष्यों के बाहरी रुप-रंग को देखते हैं। क्योंकि परमेश्वर मनुष्य के हृदय के भीतर देखता है, वह उनकी हस्ती (मूल-तत्व) को समझता है, जबकि लोग उनके बाहरी रू…

2018-05-29 03:39:43

परमेश्वर के द्वारा और बाइबल में अय्यूब का आंकलन

(अय्यूब 1:1) ऊज़ देश में अय्यूब नामक एक पुरुष था; वह खरा और सीधा था और परमेश्‍वर का भय मानता और बुराई से दूर रहता था। (अय्यूब 1:5) जब जब भोज के दिन पूरे हो जाते, तब तब अय्यूब उन्हें बुलवाकर पवित्र करता, और बड़े भोर को उ…

2018-05-29 02:51:39

शैतान ने पहली बार अय्यूब को परखा (उसकी भेड़-बकरियां चुरा ली गईं और उसके बच्चों के ऊपर आपदा आई)

क. परमेश्वर के द्वारा कहे गए वचन (अय्यूब 1:8) यहोवा ने शैतान से पूछा, "क्या तू ने मेरे दास अय्यूब पर ध्यान दिया है? क्योंकि उसके तुल्य खरा और सीधा और मेरा भय माननेवाला और बुराई से दूर रहनेवाला मनुष्य और कोई नहीं है।" (…

2018-05-29 03:07:09

शैतान एक बार फिर से अय्यूब की परीक्षा लेता है (अय्यूब के सम्पूर्ण शरीर में फोड़े निकल आते हैं)

क. परमेश्वर के द्वारा कहे गए वचन (अय्यूब 2:3) यहोवा ने शैतान से पूछा, "क्या तू ने मेरे दास अय्यूब पर ध्यान दिया है कि पृथ्वी पर उसके तुल्य खरा और सीधा और मेरा भय माननेवाला और बुराई से दूर रहनेवाला मनुष्य और कोई नहीं है?…

2018-05-29 03:16:13

अय्यूब के विषय में लोगों की अनेक ग़लतफहमियां

अय्यूब के द्वारा सही गई कठिनाईयां परमेश्वर के द्वारा भेजे गए स्वर्गदूतों का कार्य नहीं था, न ही इसे परमेश्वर के हाथ के द्वारा किया गया था। इसके बजाए, इसे शैतान के द्वारा व्यक्तिगत रूप से किया गया था, जो परमेश्वर का शत्रु…

2018-05-29 03:31:47

अय्यूब के विषय में (II)

अय्यूब की वैचारिक शक्ति अय्यूब के वास्तविक अनुभव और उसकी सीधी एवं सच्ची मानवता का अर्थ था कि उसने बहुत ही न्यायसंगत निर्णय एवं चुनाव किया था जब उसने अपनी सम्पत्तियों और अपने बच्चों को खो दिया था। ऐसे न्यायसंगत चुनाव उसक…

2018-05-29 04:08:16

अय्यूब के विषय में (I)

अय्यूब किस प्रकार परीक्षाओं से होकर गुज़रा था इन बातों को सीखने के बाद, तुम में से अधिकांश लोग संभवतः अय्यूब के विषय में और भी अधिक ब्योरों को जानना चाहोगे, खासतौर पर उस रहस्य के सम्बन्ध में जिसके द्वारा उसने परमेश्वर की …

2018-05-29 04:24:27

परमेश्वर के द्वारा अय्यूब को शैतान को सौंपना और परमेश्वर के कार्य के उद्देश्यों के मध्य सम्बन्ध

हालाँकि अधिकांश लोग यह पहचानते हैं कि अय्यूब एक खरा एवं सीधा पुरुष था, और यह कि वह परमेश्वर का भय मानता और बुराई से दूर रहता था, यह पहचान उन्हें परमेश्वर के इरादे की एक बड़ी समझ प्रदान नहीं करता है। ठीक उसी समय अय्यूब के …

2018-05-29 04:31:56

अय्यूब की गवाही के द्वारा आनेवाली पीढ़ियों को चेतावनी एवं अद्भुत प्रकाशन प्रदान करना

ठीक उसी समय उस प्रक्रिया को समझते हुए जिसके द्वारा परमेश्वर किसी व्यक्ति को पूरी तरह से हासिल करता है, लोग परमेश्वर के द्वारा अय्यूब को शैतान को सौंपे जाने के लक्ष्यों एवं महत्व को भी समझेंगे। लोग अब आगे से अय्यूब की पीड़…

2018-05-29 04:39:39

परमेश्वर में अय्यूब का विश्वास नहीं हिला क्योंकि परमेश्वर उससे छिपा हुआ था

अय्यूब ने कानो कान परमेश्वर के विषय में सुना था। (अय्यूब 9:11) देखो, वह मेरे सामने से होकर तो चलता है परन्तु मुझको नहीं दिखाई पड़ता; और आगे को बढ़ जाता है, परन्तु मुझे सूझ ही नहीं पड़ता है। (अय्यूब 23:8-9) देखो, मैं आग…

2018-05-29 04:46:59

अय्यूब परमेश्वर के नाम को धन्य कहता और आशीषों या विपत्तियों के बारे में नहीं सोचता

एक तथ्य है जिसकी ओर पवित्र शास्त्र की अय्यूब की कहानियों में कभी भी संकेत नहीं किया गया है, जिस पर आज हम ध्यान केन्द्रित करेंग। हालाँकि अय्यूब ने परमेश्वर को कभी भी नहीं देखा था या अपने कानों से परमेश्वर के वचनों को कभी …

2018-05-29 05:07:47

अपने जीवनकाल के दौरान अय्यूब के द्वारा उस मूल्य का जीवन बिताया गया

अपनी परीक्षाओं के पश्चात् अय्यूब (अय्यूब 42:7-9) ऐसा हुआ कि जब यहोवा ये बातें अय्यूब से कह चुका, तब उसने तेमानी एलीपज से कहा, "मेरा क्रोध तेरे और तेरे दोनों मित्रों पर भड़का है, क्योंकि जैसी ठीक बात मेरे दास अय्यूब ने म…

2018-05-29 05:20:08