परमेश्वर सभी चीज़ों की सृष्टि करने के लिए वचनों को प्रयोग करता है परमेश्वर आदम और हव्वा को बनाते हैं नूह अब्राहम परमेश्वर सदोम को नष्ट कर देते हैं परमेश्वर द्वारा नीनवे के उद्धार अय्यूब प्रभु यीशु के कार्य और वचन परमेश्वर सभी चीज़ों के लिए जीवन का स्रोत है मानव जीवन में छह मोड़ परमेश्वर आध्यात्मिक संसार पर किस प्रकार शासन करता है और उसे चलाता है परमेश्वर के वचनों का अधिकार और सामर्थ्य
  • परमेश्वर को जानने का मार्ग
    • परमेश्वर सभी चीज़ों की सृष्टि करने के लिए वचनों को प्रयोग करता है
    • परमेश्वर आदम और हव्वा को बनाते हैं
    • नूह
    • अब्राहम
    • परमेश्वर सदोम को नष्ट कर देते हैं
    • परमेश्वर द्वारा नीनवे के उद्धार
    • अय्यूब
    • प्रभु यीशु के कार्य और वचन
    • परमेश्वर सभी चीज़ों के लिए जीवन का स्रोत है
    • मानव जीवन में छह मोड़
    • परमेश्वर आध्यात्मिक संसार पर किस प्रकार शासन करता है और उसे चलाता है
    • परमेश्वर के वचनों का अधिकार और सामर्थ्य
प्रभु यीशु के कार्य और वचन

मनुष्य का पुत्र तो सब्त के दिन का भी प्रभु है (II)

आगे, आओ इस अंश के इस अंतिम वाक्य पर एक नज़र डालें : "मनुष्य का पुत्र तो सब्त के दिन का भी प्रभु है।" क्या इस वाक्य का कोई व्यावहारिक पक्ष है? क्या तुम …

खोई हुई भेड़ का दृष्टांत

मत्ती 18:12-14 तुम क्या सोचते हो? यदि किसी मनुष्य की सौ भेड़ें हों, और उनमें से एक भटक जाए, तो क्या वह निन्यानबे को छोड़कर, और पहाड़ों पर जाकर, उस…

सात बार के सत्तर गुने तक क्षमा करो और प्रभु का प्रेम

4. सात बार के सत्तर गुने तक क्षमा करो मत्ती 18:21-22 तब पतरस ने पास आकर उस से कहा, "हे प्रभु, यदि मेरा भाई अपराध करता रहे, तो मैं कितनी बार उसे क्ष…

यीशु चमत्कार करता है

1) यीशु पाँच हज़ार लोगों को खिलाता है यूहन्ना 6:8-13 उसके चेलों में से शमौन पतरस के भाई अन्द्रियास ने उससे कहा, "यहाँ एक लड़का है जिसके पास जौ की पाँच…

प्रभु यीशु की फरीसियों को डाँट

10. फरीसियों द्वारा यीशु की आलोचना मरकुस 3:21-22 जब उसके कुटुम्बियों ने यह सुना, तो वे उसे पकड़ने के लिए निकले; क्योंकि वे कहते थे कि उसका चित ठिका…

अपने पुनरुत्थान के बाद अपने चेलों के लिए यीशु के वचन

यूहन्ना 20:26-29 आठ दिन के बाद उसके चेले फिर घर के भीतर थे, और थोमा उनके साथ था; और द्वार बन्द थे, तब यीशु आया और उनके बीच में खड़े होकर कहा, "तुम्हें…

अपने पुनरुत्थान के बाद यीशु रोटी खाता है और पवित्रशास्त्र समझाता है

13. अपने पुनरुत्थान के बाद यीशु रोटी खाता है और पवित्रशास्त्र समझाता है लूका 24:30-32 जब वह उनके साथ भोजन करने बैठा, तो उसने रोटी लेकर धन्यवाद कि…