सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ऐप

परमेश्वर की आवाज़ सुनें और प्रभु यीशु की वापसी का स्वागत करें!

सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना

ठोस रंग

विषय-वस्तुएँ

फॉन्ट

फॉन्ट का आकार

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

0 खोज परिणाम

कोई परिणाम नहीं मिला

परमेश्वर की ताड़ना और न्याय प्रेम हैं ये जान लो

I

इंसान को पापों का दंड देना न्याय औऱ ताड़ना का लक्ष्य है।

इन कामों का लक्ष्य नहीं है इंसान की देह को निंदित करना या मिटा देना।

वचन के कठोर ख़ुलासे हैं कि तुम सही राह पाओ।

तुमने ख़ुद महसूस किया है परमेश्वर के काम को,

गलत राह नहीं दिखाता है ये तुम्हें।

II

परमेश्वर का कार्य बना देता है सहज जीवन तुम्हारा,

कर सकते हो इसे हासिल तुम।

कोई भारी बोझ नहीं डाला जाता,

काम होता है तुम्हारी ज़रूरतों के आधार पर।

विजय कार्य के मायने जान लो तुम।

अब इसे साफ़ तौर पर समझ लेना चाहिए तुम्हें।

जान लो न्याय के मायने तुम, मत रखो अब ढेर सारे ख़्याल तुम।

विजय कार्य के मायने जान लो तुम।

III

अगर इस काम को तुम समझ नहीं पाए,

तो आगे नहीं बढ़ पाओगे तुम,

उद्धार में तुम दिलासा पाओ, जागो और होश में आओ।

हालाँकि अभी साफ़ तौर तुम समझ नहीं पाते हो,

लगता है परमेश्वर कठोर है तुम पर,

न्याय करता है तुम्हारा, चूँकि नफ़रत करता है तुमसे।

नहीं, ये प्रेम है परमेश्वर का, सुरक्षा कवच है तुम्हारा।

विजय कार्य के मायने जान लो तुम।

अब इसे साफ़ तौर पर समझ लेना चाहिए तुम्हें।

जान लो न्याय के मायने तुम, मत रखो अब ढेर सारे ख़्याल तुम।

विजय कार्य के मायने जान लो तुम।

"वचन देह में प्रकट होता है" से

पिछला:परमेश्वर के साथ सामान्य रिश्ता कैसे स्थापित करें

अगला:सत्य को जितना अधिक अमल में लाओगे उतनी तेज़ी से प्रगति करोगे

वचन देह में प्रकट होता है अंतिम दिनों के मसीह के कथन - संकलन मेमने ने पुस्तक को खोला न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है राज्य के सुसमाचार पर सर्वशक्तिमान परमेश्वर के उत्कृष्ट वचन -संकलन परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं (नये विश्वासियों के लिए अनिवार्य चीजें) राज्य के सुसमाचार पर उत्कृष्ट प्रश्न और उत्तर (संकलन) मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना अंत के दिनों के मसीह के लिए गवाहियां सच्चे मार्ग की खोजबीन पर एक सौ प्रश्न और उत्तर विजेताओं की गवाहियाँ मसीह के न्याय के अनुभव की गवाहियाँ जीवन में प्रवेश पर उपदेश और वार्तालाप मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया