मसीही जीवन

10 संबंधित मीडिया

एक ईसाई की आपबीती : रोजगार की तलाश का एक अनूठा अनुभव

काम का कोई अनुभव न होने और साथ ही कोई विदेशी भाषा न बोल पाने के बावजूद किसी विदेशी मुल्क में नौकरी ढूँढना बेहद मुश्किल काम हो सकता है। पर सिस्टर ज़िंग यू परमेश्वर के वचनों के अनुसार जीने वाली एक ईमानदार महिला बन गई और उसे…

27 नवम्बर, 2020

ईसाई आत्मिक जीवन के लिए 3 सिद्धांत

क्या आपने कभी इस उलझन का सामना किया है कि भक्ति और प्रार्थना के बावजूद भी, कुछ ज्यादा हासिल नहीं हो रहा है या प्रेरणा का अनुभव नहीं हो रहा है? ऐसा क्यों है? हमें अपनी दैनिकभक्ति से फल कैसे प्राप्‍त हो सकता है? निम्‍नांकि…

16 अगस्त, 2020

3 सिद्धांत – कैसे प्रार्थना करें ताकि परमेश्वर हमारी पुकार सुनें

चेंग शीभाइयो और बहनो:प्रभु की शांति आपके साथ हो! प्रार्थना करना हम ईसाइयों का, परमेश्वर के साथ सामान्य संबंध स्थापित करने का एक महत्वपूर्ण तरीका है। ऐसा विशेष रूप से सुबह और रात के समय किया जाता है। यही कारण है कि प्रार्…

28 दिसम्बर, 2018

परमेश्वर ईसाइयों को क्यों कष्ट सहने देते हैं?

कई ईसाई उलझन में हैं: परमेश्वर प्रेम हैं और वह सर्वशक्तिमान हैं, तो वह हमें कष्ट सहने क्यों देते हैं? इसका उत्तर जानने के लिए इस निबंध को पढ़ें!

08 अगस्त, 2019

क्या तुम ईसाई प्रार्थना के 4 प्रमुख तत्वों को जानते हो?

यांग यांग, चीनभाइयों और बहनों, हम सभी जानते हैं कि परमेश्वर से प्रार्थना करना ईसाइयों के लिए परमेश्वर से संवाद करने का सबसे सीधा तरीका है। यही कारण है कि, सुबह और शाम की प्रार्थनाओं के अलावा, हम और भी कई बार प्रार्थना कर…

19 मार्च, 2019

ईसाई जीवन: 4 सलाह, जो प्रभु की मंशा के अनुरूप दूसरों के साथ आपसी संवाद करने का तरीका सिखाते हैं

वांग ज़ीहान, शांक्सी प्रान्तपारस्परिक संबंध एक ऐसा विषय है जो कई लोगों के सिर में दर्द पैदा कर देता है। यह एक ऐसा विषय भी है जिसका अक्सर ईसाई के रूप में एक व्यक्ति पूरे जीवन भर सामना करता है। प्रभु यीशु की अपेक्षा है कि ह…

16 दिसम्बर, 2018

मुझे मेरे बेटे को शिक्षित करने का मार्ग मिल गया

हुईयुआन, मलेशिया"पिछले कुछ हफ्तों से, आपके बेटे ने कक्षा में बहुत ध्यान दिया है, वो बहुत समझदार बच्चा है। वह पहले जैसा हुआ करता था उससे पूरी तरह से बदल गया है। वह अचानक इतना बदल कैसे गया? आप उसे घर पर कैसे पढ़ा रही हैं?" …

18 अप्रैल, 2019

क्या आप आत्मा और सच्चाई से परमेश्वर की आराधना करते हैं?

शियांशिन द्वारा सूचीपत्र हम सत्य का अभ्यास कर रहे हैं या फिर रीति-रिवाज़ों से चिपके हैं? क्या हम परमेश्वर को प्रेम करने और संतुष्ट करने के लिए स्वयं को खपाते हैं?प्रभु यीशु ने कहा है, "जिसमें सच्‍चे भक्‍त पिता की आराधन…

22 मार्च, 2019

इन चार बातों को समझने से, परमेश्वर के साथ हमारा रिश्ता और भी क़रीबी हो जाएगा

लेखिका: ज़ियोमो, चीनबाइबल कहती है, "परमेश्‍वर के निकट आओ तो वह भी तुम्हारे निकट आएगा" (याकूब 4:8)। ईसाई होने के नाते, केवल परमेश्वर के क़रीब आने और परमेश्वर के साथ वास्तविक बातचीत करने से ही हम परमेश्वर के साथ एक सामान्य …

13 मार्च, 2019

सच्ची प्रार्थना करने का क्या मतलब है?

परमेश्वर के प्रासंगिक वचन:सच्ची प्रार्थना क्या है? प्रार्थना परमेश्वर को यह बताना है कि तुम्हारे हृदय में क्या है, परमेश्वर की इच्छा को समझकर उससे बात करना है, परमेश्वर के वचनों के माध्यम से उसके साथ संवाद करना है, स्वयं…

20 मार्च, 2018