सर्वशक्तिमान परमेश्वर की कलीसिया का ऐप

परमेश्वर की आवाज़ सुनें और प्रभु यीशु की वापसी का स्वागत करें!

सत्य को खोजने वाले सभी लोगों का हम से सम्पर्क करने का स्वागत करते हैं

मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना

ठोस रंग

विषय-वस्तुएँ

फॉन्ट

फॉन्ट का आकार

लाइन स्पेस

पृष्ठ की चौड़ाई

0 खोज परिणाम

कोई परिणाम नहीं मिला

इंसान को परमेश्वर की राह पर कैसे चलना चाहिए

I

ईश्वर की राह पे चलना नियमों का पालन नहीं है।

ये है देखना हर चीजों को जैसे ईश्वर ने व्यवस्थित है किया,

ज़िम्मेदारी जो है तुम्हें प्रदान की गई,

तुम्हें सौंपी गयी कोई चीज़, परीक्षण दिए गए द्वारा उसके।

ईश्वर की राह पे चलते हुये, ईश्वर को नाराज़ न करो।

ईश्वर के स्वभाव का अपमान न करो।

ईश्वर की राह पे चलते हुए।

II

किसी चीज़ का सामना करो जब, होना चाहिए एक स्तर तुम्हारा,

जानकर की ये है आता ईश्वर के हाथ से। ओ...

ईश्वर की राह पे चलते हुये, ईश्वर को नाराज़ न करो।

ईश्वर के स्वभाव का अपमान न करो।

ईश्वर की राह पे चलते हुए।

ओ....

III

तुम्हे सोचना चाहिए कैसे इस मामले से निपटना चाहिए,

करने को पूरी ज़िम्मेदारियाँ

और होने को वफ़ादार उसके प्रति, उसके प्रति।

ईश्वर की राह पे चलते हुये, ईश्वर को नाराज़ न करो।

ईश्वर के स्वभाव का अपमान न करो।

ईश्वर की राह पे चलते हुए।

ईश्वर की राह पे चलते हुए।

ओ...

"वचन देह में प्रकट होता है" से

पिछला:पवित्र आत्मा के कार्य के सिद्धांत

अगला:परमेश्वर का खुला प्रशासन अखिल ब्रह्माण्ड में

शायद आपको पसंद आये

वचन देह में प्रकट होता है अंतिम दिनों के मसीह के कथन - संकलन मेमने ने पुस्तक को खोला न्याय परमेश्वर के घर से शुरू होता है मसीह की बातचीतों के अभिलेख राज्य के सुसमाचार पर सर्वशक्तिमान परमेश्वर के उत्कृष्ट वचन -संकलन परमेश्वर की भेड़ें परमेश्वर की आवाज को सुनती हैं (नये विश्वासियों के लिए अनिवार्य चीजें) मेमने का अनुसरण करना और नए गीत गाना अंतिम दिनों के मसीह के लिए गवाहियाँ सच्चे मार्ग की खोजबीन पर एक सौ प्रश्न और उत्तर विजेताओं की गवाहियाँ मसीह के न्याय के अनुभव की गवाहियाँ जीवन में प्रवेश पर उपदेश और वार्तालाप राज्य के सुसमाचार पर उत्कृष्ट प्रश्न और उत्तर (संकलन) मैं वापस सर्वशक्तिमान परमेश्वर के पास कैसे गया