अपनी असलियत की सही पहचान

चर्च के काम-काज की आवश्यकताओं के कारण, मुझे अपने कर्तव्य के निर्वाह के लिए एक दूसरे स्थान पर भेजा गया था। उस समय,

2017-12-20 07:45:53

ओहदा खोने के बाद ...

हर बार जब मैं किसी को बदले जाने और इस कारण उनके दुखी, कमजोर या रुष्ट होने और उनके अनुसरण न करने की घटना को देखती थी या इस बारे मेँ सुनती थी तो ऐसे लोगों के प्रति मेरे मन मेँ निरादर का भाव आ जाता था।

2017-12-20 08:45:53

इस प्रकार की सेवा सच में तिरस्करणीय है

पिछले कुछ दिनों में, कलीसिया ने मेरे कार्य में एक परिवर्तन की व्यवस्था की है। जब मुझे यह नया कार्यभार मिला, तो मैंने सोचा

2017-12-20 11:45:53

पतन से पहले की एक घमंडी आत्मा

किसी कार्य की आवश्यकता की वजह से, मेरा स्थानांतरण एक अन्य कार्यक्षेत्र में कर दिया गया था। उस समय, मैं परमेश्वर की बहुत आभारी थी। मुझे महसूस होता था कि मुझमें बहुत कमी है, फिर भी परमेश्वर के दिव्य प्रोत्साहन के माध्यम से…

2017-12-20 12:45:53

यह जानना कि मैं फरीसियों के मार्ग पर चलती आई हूँ

कोई चीज़ जिसके बारे में हमने पिछले संवादों में हमेशा चर्चा की है, वह है पतरस और पौलुस द्वारा चले गए मार्ग। यह कहा जाता है कि पतरस ने स्वयं को और परमेश्वर को जानने पर ध्यान दिया था,

2017-12-20 13:45:53

मैं परमेश्वर को जानने का मार्ग देखता हूँ

मैं अपने तर्कसम्मत विचारों पर वापस जितना ज्यादा सोचता, उतना ही ज्यादा मुझे अपनी दयनीयता, मूर्खता और बचपने का अहसास होता था।

2017-12-20 14:45:53

परमेश्वर की सेवा करते समय नई चालाकियाँ मत ढूँढो

मुझे अभी-अभी कलीसिया के अगुआ का उत्तरदायित्व लेने के लिए पदोन्नत किया गया था। लेकिन कुछ अवधि तक की कठिन मेहनत के बाद,

2017-12-20 15:45:53

व्यक्तिगत प्रतिशोध का स

कुछ समय पहले हमे अपने क्षेत्र में ज़िलों का चयन करना पड़ता था, और अगुआओं को चुनने के लिए हमारे सिद्धांतों के आधार पर एक भाई होता था जो तुलनात्मक तौर पर एक उपयुक्त उम्मीदवारहोता था।

2017-12-20 16:45:53

कठिनाइयों के बीच परमेश्वर की इच्छा को समझना

जब मैं सुसमाचार का प्रचार कर रहा था, तो मेरा सामना विधर्मी अगुआओं से हुआ जो प्रतिरोध और गड़बड़ी करने के लिए झूठी गवाही देते थे, और पुलिस बुला लेते थे।

2017-12-20 18:45:53

बेड़ियों को तोड़ना

दस साल पहले, अपनी अहंकारी प्रकृति के कारण, मैं कभी भी कलीसिया की व्यवस्थाओं का पूरी तरह से पालन करने में सक्षम नहीं थी।

2017-12-20 20:45:53

अहंकार का कड़वा फल

कुछ समय पहले, मुझे पता चला था कि एक ऐसी कलीसिया थी जिसके पास ऐसा अगुआ थी जो योग्य नहीं थी।

2017-12-20 21:45:53

जीवन और मृत्यु की एक जंग

कुछ समय पहले, मुझे ऐसा लगा कि मेरे साथ काम करने वाली एक बहन काफी अहंकारी थी और मुझे नीचा दिखाया करती थी

2017-12-20 23:45:53

परमेश्वर के वचनों ने मुझे जगा दिया है

एक दिन, जब मैं आध्यात्मिक प्रार्थना कर रही थी, तो मैंने "मसीह न्याय का कार्य सत्य के साथ करता है"

2017-12-21 00:45:53

बचाय जाने के बारे में समझ

इन अनेक वर्षों में परमेश्वर का अनुसरण करते हुए, मैंने अपने परिवार और देह के आनंदों को त्याग दिया है, और मैं पूरा दिन कलीसिया में अपना कार्य करने में व्यस्त रही हूँ।

2017-12-21 01:45:53

सेवा में समन्वय का महत्व

कलीसिया के प्रशासन को उसके मूल रूप में बदलने के बाद, परमेश्वर के घर में अगुआ के हर स्तर के लिए साझेदारी स्थापित की गई थी।

2017-12-21 03:45:53

पवित्रा आत्मा सैद्धांतिक तरीके में काम करता है

कुछ समय से, यद्यपि मैंने परमेश्वर के वचनों को खाना और पीना बंद नहीं किया था, मैं कभी भी प्रकाश को महसूस नहीं करती थी।

2017-12-21 04:45:53

झूठ के पीछे क्या है

एक बार, मैंने देखा कि किसी व्यक्ति में अन्य लोगों के शारीरिक कल्याण और देखभाल के विचार का अभाव था,

2017-12-21 05:45:53

सही मायने में एक अच्छे व्यक्ति का मानदंड

जब से मैं एक बच्ची थी, मैंने हमेशा, दूसरे लोग मुझे कैसे देखते हैं और उनका मेरे लिए मूल्यांकन क्या है, इस बात को बहुत महत्व दिया।

2017-12-21 06:45:53

बदली किये जाने पर भावना

इस समय, मैंने उस बहन, जिसे बदल दिया गया था, के हठी आचरण और प्रदर्शन को विस्तार से याद करना शुरू कियाI

2017-12-21 08:45:53

मैं मसीह को देखने के अयोग्य हूँ

हुआनबाओ डैलिआन शहर, लिआओनिंग प्रांत जब से मैंने सबसे पहले सर्वशक्तिमान परमेश्वर में विश्वास करना आरंभ किया, तब से मैं उन भाइयों और बहनों की हमेशा सराहना करता था जो मसीह की व्यक्तिगत सेवकाई हासिल कर सकते हैं, जो अपने स…

2017-12-21 09:45:53

परमेश्वर का हर वचन उसके स्वभाव की अभिव्यक्ति है

मैं परमेश्वर की प्रबुद्धता और रोशनी तो धन्यवाद देती हूँ जिसने मुझे इन बातों को समझने दिया, और फिर इसके बाद मैंने इस पहलु का अभ्यास करने और इसमें प्रवेश करने पर ध्यान केन्द्रित करना शुरू कर दिया।

2017-12-21 10:45:53

परमेश्वर में विश्वास करने के मार्ग पर बेहतरी के लिए एक मोड़

झुआनबिआन शंघाई शहर यद्यपि मैं कई वर्षों से परमेश्वर का अनुसरण करता आ रहा था, फिर भी मैंने अपने जीवन में प्रवेश के साथ लगभग कोई प्रगति नहीं की थी, और इसने मुझे बहुत चिंतित महसूस करवा दिया था। खासकर जब मैंने जीवन प्रवेश…

2017-12-21 12:45:53

मेरे हृदय की गहराई में समाया हुआ रहस्य

वुझी लिनयी शहर, शैंडॉन्ग प्रान्त 2006 की बसंत में, मुझसे मेरा अगुआ का पद छीन लिया गया था और मैं जहाँ से आई थी मुझे वापस वहाँ वापिस भेज दिया गया क्योंकि मुझे दूसरों का बहुत ज्यादा "चाटुकार" माना गया था। जब मैं पहली बार…

2017-12-21 16:45:53

ईमानदारी में बहुत ज्यादा खुशी है

अंत के दिनों में मेरे परमेश्वर का कार्य स्वीकार कर लेने के बाद भी, दूसरों के साथ व्यवहार में मेरा यही उसूल रहता था।

2017-12-21 17:45:53

परमेश्वर का प्रेम की प्रकृति क्या है?

हाल ही में, वह बहन जिसके साथ मैं समन्वय कर रही थी, उसे हाइपरथायरॉडिज्म हो गया।

परमेश्वर का प्रेम, परीक्षाएँ और उत्पीड़न 2017-12-21 18:45:53

मैं सभी का पर्यवेक्षण स्वीकार करने की इच्छुक हूँ

कुछ समय पहले, जब भी मैं सुनती थी कि जिले के उपदेशक हमारे कलीसिया में आ रहे हैं, तो मैं थोड़ा बेचैन महसूस करती थी।

2017-12-21 20:45:53

मेरे जीवन सिद्धांतों ने मेरा अहित किया

चैंगकाई बेंग्ज़ी शहर, लियाओनिंग प्रांत एक सामान्य वाक्यांश "अच्छे लोग सबसे पीछे रह जाते हैं", ऐसी बात है जिससे मैं निजी रूप से बेहद परिचित हूँ। मैं और मेरा पति विशेष रूप से निष्कपट लोग थे: जब ऐसे मामलों की बात आती जि…

2017-12-21 21:45:53

"परमेश्वर के विरुद्ध विद्रोह" का वास्तविक अर्थ

इस समय, मैं एक ख़ौफ़ का भाव महसूस करने के अलावा और कुछ नहीं कर सकता था।

2017-12-21 22:45:53

खोज के पीछे छुपे रहस्य

कुछ समय पहले, मुझे परमेश्वर द्वारा उठाया गया और क्षेत्र के कार्यकर्ता के रूप में प्रोन्नत कर दिया गया।

2017-12-21 23:45:53

तथाकथित अच्‍छे व्‍यक्ति का असली चेहरा

अपने मन में, मैं हमेशा स्वयं को एक अच्‍छी मानवता वाली व्‍यक्ति समझती थी।

2017-12-22 00:45:53

मैंने परमेश्वर के उद्धार का अनुभव किया

परमेश्वर की कृपा से, हमारे कर्तव्यों को पूरा करने के लिए, मेरी पत्नी और मुझे सुसमाचार के दल के द्वितीय-क्रम में पदोन्नत किया गया था। कुछ समय पहले, मेरी पत्नी को एक दल का निदेशक पदोन्नत किया गया था

2017-12-22 01:45:53

सत्‍य को सचमुच स्‍वीकार करना क्‍या है?

अतीत में, हर समय जब मैं परमेश्‍वर द्वारा प्रकट उस वचन के बारे में पढ़ता था कि कैसे लोग सत्‍य को स्‍वीकार नहीं करते हैं

2017-12-22 02:45:53

ईर्ष्या, आध्यात्मिक दीर्घकालीन बीमारी

बहन हे जिएजिंग हेजू शहर, गुआंग्सी प्रांत एक साथ मिलकर लेखों को संशोधित करने के लिए एक बहन और मुझे जोड़ीदार बनाया गया था। जब हम मिल रहे थे, तो मुझे एहसास हुआ कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता था कि चाहे वह गाना गाना, नृत्य क…

2017-12-22 05:45:53

सत्य का अभ्यास करने का अनुभव

इस रीति से, मैं अनजाने में अहंकारी और स्वयं को बधाई देने वाली बन गई।

2017-12-22 06:45:53

जो कुछ परमेश्वर कहता है वह ही मनुष्य का न्याय है

हाल ही में, मेजबान परिवार की वरिष्ठ बहन शारीरिक भावनाओं में फंस गई, और इसके परिणामस्वरूप उसने

2017-12-22 07:45:53

एक ईमानदार व्यक्ति होना आसान नहीं है

सर्वशक्तिमान परमेश्वर के अंत के समय के कार्य को स्वीकार करने के बाद, परमेश्वर के वचनों को पढ़ने और उपदेशों को सुनने के माध्यम से, मुझे अपने विश्वास में एक ईमानदार व्यक्ति होने का महत्व समझ में आया, और मैं जान पाई कि केवल…

2017-12-22 08:45:53

अप्रभावी कार्य का असल कारण

बहन ज़िनयी ज़ि'आन शहर, शानसी प्रांत कलीसियाओं के मेरे हाल ही के दौरों में, मैं ने अक्सर अगुवों एवं कार्यकर्ताओं को यह कहते हुए सुना कि कुछ लोग, मेरे साथ संगति में भाग लेने के पश्चात्, नकारात्मकएवं दुर्बल हो गए और उनमें …

2017-12-22 09:45:53

शैतान के जूए को उतार फेंकना ही मुक्त करता है

परमेश्वर पर विश्वास करने से पहले, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता था कि मैं क्या करती थी, मैं कभी पीछे रहना नहीं चाहती थी। मैं किसी भी कठिनाई को स्वीकार करने के लिए तैयार थी जब तक इसका आशय यह था कि मैं हर किसी से ऊपर उठ सकती थी।

परमेश्वर का उद्धार 2017-12-22 10:45:53

यह सत्य को अभ्यास में लाना है

अतीत में, कुछ कर्तव्यों पर कार्य करने के लिए मुझे एक बहन के साथ जोड़ा गया। क्योंकि मैं अहंकारी और घमण्डी थी और सत्य की खोज नहीं करती थी,

2017-12-22 11:45:53

एक सच्ची भागीदारी

फैंग ली एन्यांग शहर, हेनान प्रान्त हाल ही में मैंने सोचा था कि मैंने एक सामंजस्यपूर्ण भागीदारी में प्रवेश किया है। मैं और मेरा सहभागी किसी भी चीज़ पर चर्चा कर सकते थे, कभी-कभी मैंने उससे यहाँ तक कि मेरी कमियों क…

2017-12-22 12:45:53

सर्वोत्कृष्ट उपहार जो परमेश्वर ने मुझे दिया है

यिक्ज़िन शिजिएजुआंग शहर, हेबेई प्रान्त इससे पहले, मैं बार-बार अपने भाइयों एवं बहनों को यह कहते हुए सुनती थी कि, "परमेश्वर जो कुछ भी करता है वह बहुत अच्छे के लिए होता है; यही वह सब है जिसकी लोगों को आवश्यकता है। मैंने इसे…

2017-12-22 13:45:53

पवित्र आत्मा के कार्य का पालन करना अति महत्वपूर्ण है!

कुछ दिनों के बाद, वार्तालाप के दौरान मेरा उस बहन के साथ आमना-सामना हो गया।

2017-12-22 14:45:53

परमेश्वर का कार्य कितना ज्ञानपूर्ण है!

कलीसिया में एक अगुआ के रूप में काम करने के मेरे समय के दौरान

2017-12-22 15:45:53

नकाब को फाड़ डालो, और नए सिरे से जीवन शुरू करो

परमेश्वर के वचनों में, मुझे आशा मिली और मेरा दिल गहराई से प्रेरित हुआ।

2017-12-22 16:45:53

मैंने दूसरों के साथ काम करना सीखा

परमेश्वर के अनुग्रह और उत्कर्ष से, मैंने कलीसिया का अगुआ होने का उत्तरदायित्व लिया।

2017-12-22 17:45:53

मैं फरीसियों के मार्ग पर क्यों चली गई हूँ?

सुज़िंग शांग्ज़ी प्रांत मैं एक घमण्डी और अकडू व्यक्ति हूँ, और पद मेरी कमज़ोरी रहा है। कई वर्षों से मैं प्रतिष्ठा और पद से बँधी रही हूँ और मैं स्वयं को इससे स्वतन्त्र करने में समर्थ नहीं हुई हूँ। बार-बार मुझे पदोन्नत और…

2017-12-22 18:45:53

अंततः मैं एक मनुष्य की तरह थोड़ा जीवन व्यतीत करता हूँ

मैं सर्वशक्तिमान परमेश्वर का धन्यवाद करता हूँ कि उसने मुझे अपने न्याय और ताड़ना के माध्यम से बदल दिया, कि उसने मुझे शैतान के विष और नुकसान को दिखाया। अब जो उचित है मैं उसकी खोज करता हूँ, और एक मनुष्य की तरह जीता हूँ।

परमेश्वर का उद्धार 2017-12-22 20:45:53

एक आध्यात्मिक पुनर्जन्म

मैं एक गरीब ग्रामीण परिवार में पैदा हुआ था जो अपनी सोच में पिछड़ा हुआ था। मैं छोटी उम्र से ही घमंडी था और हैसियत की मेरी इच्छा विशेष रूप से प्रबल थी।

परमेश्वर का उद्धार 2017-12-22 21:45:53

पश्चाताप के बिना युवावस्था का समय बिता दिया

1996 में मुझे परमेश्वर का की उमंग मिली और मैंने अंत के दिनों में सर्वशक्तिमान परमेश्वर के उद्धार को स्वीकार किया।

2017-12-22 22:45:53

अंधकार के उत्पीड़न से होकर फिर उठ खड़ा हुआ

मेरा जन्म एक गरीब, दूरस्थ पर्वतीय क्षेत्र में हुआ था, जहाँ हम कई पीढ़ियों से अगरबत्ती जलाते व बुद्ध की पूजा करते आए थे।

परीक्षाएँ और उत्पीड़न 2017-12-22 23:45:53